चंडीगढ़मनोरंजन

पहलाज निहलानी ने बॉलीवुड फिल्म “लाल अयोध्या” का टाइटल लांच

बॉलीवुड के दिग्गज निर्माता व सेंसर बोर्ड के पूर्व चेयरमैन पहलाज निहलानी ने अमरजीत मिश्रा की फिल्म “लाल अयोध्या” का टाइटल लॉन्च किया। फिल्म का निर्देशन दुष्यंत प्रताप सिंह कर रहे हैं।

टाइटल लांच अवसर पर पहलाज निहलानी ने फिल्म के निर्माता अमरजीत मिश्रा और निर्देशक दुष्यंत प्रताप सिंह को मुबारकबाद देते हुए कहा कि यह फिल्म कोई प्रोपेगेंडा नहीं बल्कि एक शुद्ध कमर्शियल और हृदय स्पर्शी कहानी है। उन्होंने कहा कि फिल्म जब रिलीज होगी, तो सब को अपनी कहानी से चौंका देगी। उन्होंने कहा कि निर्देशक दुष्यंत प्रताप सिंह की पूर्व फिल्मों की तरह यह फिल्म भी उनके करियर में एक मील का पत्थर साबित होगी। पहलाज निहलानी ने बातचीत में कहा कि अयोध्या विषय पर पूर्व में भी कई फिल्में बनी है. आगामी वर्षों में भी कई फिल्में प्रस्तावित है, लेकिन इस फिल्म की कहानी जब निर्माता और निर्देशक ने उन्हें सुनाई तो वह द्रवित हो गए और उन्हें उम्मीद नहीं पूरा विश्वास है कि इस फिल्म के निर्माता और निर्देशक इस सब्जेक्ट के साथ न्याय करेंगे।

 

फिल्म के निर्देशक दुष्यंत प्रताप सिंह ने कहा कि वह इस फिल्म को लेकर काफी उत्साहित हैं। वह पहले भी कई फिल्मों और वेब सीरीज का निर्देशन कर चुके हैं, जो कि भारतीय सिनेमा जगत में काफी लोकप्रिय रही। उन्होंने लाल अयोध्या पर विश्वास जताते हुए कहा कि उनकी यह फिल्म उनके करियर की सबसे बड़ी फिल्म साबित होगी। उन्होंने बताया की फिल्म की शूटिंग लखनऊ, अयोध्या और उत्तर प्रदेश सहित चण्डीगढ व कई शहरों में प्रस्तावित है। फिल्म की सबसे बड़ी ताकत फिल्म की पटकथा है, क्योंकि इस फिल्म के द्वारा दर्शकों को कहानी रहस्यमयी जानकारियां प्राप्त होगी।।इसी के साथ फिल्म का म्यूजिक बॉलीवुड के प्रसिद्ध म्यूजिक कंपोजर आनंद शर्मा द्वारा दिया जा रहा है जो इस फिल्म फिल्म में चार चांद लगा देगा। उन्होंने कहा कि बहुत जल्द दर्शकों और मीडिया को फिल्म के ट्रेलर के साथ वह एक बड़ा सरप्राइज देने वाले हैं.

इन्हें भी पढ़ें...  ओलावृष्टि से फसल बर्बाद, गिरदावरी कराकर किसानों को उचित मुआवजा दे सरकार - नसीब जाखड़

 

फिल्म के निर्माता और लेखक अमरजीत मिश्रा ने फिल्म की कहानी पर चर्चा करते हुए बताया कि इस विषय पर उनका अनुसंधान न सिर्फ पुस्तकों, न्यूज़ समाचारों, व व्यक्तिगत लोगों से मुलाकात ऊपर आधारित है, बल्कि वह खुद कारसेवक की भूमिका सक्रिय रूप से निभा चुके हैं। उन्होंने कहा कि इस सब्जेक्ट पर वह पिछले 5-6 वर्षों से गहन अनुसंधान कर रहे हैं। मिश्रा ने कहा की वह स्वयं भी इस घटना के साक्षी रहे हैं इस वजह से उनकी जिम्मेदारी और भी ज्यादा बढ़ जाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button

You cannot copy content of this page

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

स्विटजरलैंड में बर्फबारी के मजे ले रही हैं देसी गर्ल