पंजाब

7 Star सुखविलास Hotel की CM मान ने खोली पोल,बोले- फायदे के लिए पॉलिसियां बदलीं

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने चडीगढ़ में प्रेस कांफ्रेस के दौरान बादल परिवार के 7 स्टार होटल सुख विलास को लेकर बड़े खुलासे किए है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यहां का किराया 4 से 5 लाख प्रति रात है और हर कमरे के पीछे एक स्विमिंग पूल है। दरअसल, यह कोई लग्जरी रिजॉर्ट नहीं बल्कि मेट्रो इको ग्रीन रिजॉर्ट है। इसके नाम पर ही मोहाली जिले में पल्नपुर गांव का नाम रखा गया है। इसकी शुरूआत 1985-86 में मेट्रो इको ग्रीन रिज़ॉर्ट के रूप में हुई जब बादल परिवार ने पल्नपुर गांव में 86 कनाल और 16 मरले ज़मीन खरीदी। यह जंगल का इलाका है और यहां कोई निर्माण कार्य नहीं हो सकता।

फायदे के लिए पॉलिसियां बदलीं -CM मान
इसके बाद बादल परिवार इको टूरिज्म पॉलिसी लाए और इसमें संशोधन किया ताकि यहां होटल बनाया जा सके। इसके साथ ही अपने फायदे के लिए कई अन्य संशोधन भी किए गए। पहले यहां बादल परिवार का पोल्ट्री फार्म था, जिसे होटल बनाने की मंजूरी मिल गई और जिन कंपनियों ने मंजूरी दी, वे भी बादलों के स्वामित्व में थीं। इसके बाद उनकी ही कंपनी ने जमीन उनकी कंपनी को बेच दी और इस तरह बादलों के पास 20-21 किले जमीन जमा हो गई। मुख्यमंत्री ने कहा कि इन कंपनियों के अधिकतर शेयर बादल परिवार के पास हैं। सुखबीर बादल के पास 1 लाख 83 हजार, 225 शेयर,हरसिमरत कौर बादल के पास 81 हजार, 500 शेयर हैं, जिनकी कीमत 100 रुपये है। होटल निर्माण की प्रक्रिया 27-05-2013 को शुरू हुई। यह होटल फिलहाल ‘ओबेराय सुख विलास’ के नाम से चल रहा है।

इन्हें भी पढ़ें...  न्यू चंडीगढ़ खिजराबाद में स्पेशल सेल व बदमाशों के बीच मुठभेड़- देखें वीडियो

मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा कि जो लोग ‘पंजाब बचाओ यात्रा’ कर रहे हैं, उन्होंने पंजाब को बहुत चूना लगाया है। बादलों ने जो इको-टूरिज्म पॉलिसी बनाई उसमें सिर्फ बादलों का होटल आया, जबकि कोई और होटल नहीं आया। बादलों ने 10 सालों के लिए राज्य में GSTऔर VAT TAX भी माफ करवा लिया है, जोकि कुल 85 करोड़, 84 लाख, 50 हजार बनता है। इसके अलावा, बिजली शुल्क भी 10 साल के लिए माफ करवा ली और लग्जरी टैक्स और वार्षिक लाइसेंस शुल्क भी बादलों द्वारा नहीं दी गई, जिसकी कीमत 11 करोड़, 44 लाख, 60 हजार रुपये है। यह कुल मिलाकर 1 अरब, 8 करोड़, 73 लाख, 70 हजार बनता है। यह अवधि 11-05-2015 से 10-05-2025 तक है।

 

मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा कि मैं कहता था कि होटल में जो ईंटें लगी हैं, वह गारे में नहीं, बल्कि लोगों के खून से लगी हैं, जो सामने आ गया है। इस पॉलिसी का फायदा किसी अन्य होटल को नहीं मिला, बादल परिवार ने सिर्फ अपना बिजनेस बढ़ाने के लिए ये सब किया. इसके अलावा होटल के बीच की सड़क का निर्माण भी 4 करोड़, 13 लाख रुपए की लागत से किया गया था। मुख्यमंत्री ने कहा कि सुख विलास से जुड़े दस्तावेज सामने आ गए हैं, उनसे और भी बहुत कुछ निकलेगा क्योंकि उनकी अपनी सरकार थी और मंजूरी भी खुद ही देनी थी। वन विभाग से संबंधित जितनी भी दिशानिर्देश हैं, बादल परिवार ने सभी को अपने पक्ष में कर लिया।

इन्हें भी पढ़ें...  पंजाबी म्यूजिक इंडस्ट्री के चर्चित कंपोजर Bunty Bains पर जानलेवा हमला, Sidhu मूसेवाला से था खास कनेक्शन

मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा कि इन सबके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि हम AG को सब दिखा चुके है और आने वाले दिनों में इन सबके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

 

Source : 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button

You cannot copy content of this page

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

स्विटजरलैंड में बर्फबारी के मजे ले रही हैं देसी गर्ल