TRENDINGदेशराज्य

बिहार में बिजली विभाग ने दिया ऐसा झटका कि मजदूर के उड़े होश,भेजा 31 लाख का बिल

बिहार के मुजफ्फरपुर जिला से बिजली विभाग का एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। मामला पियर थाना क्षेत्र अंतर्गत सिमरा पंचायत के वार्ड संख्या- 9 का है। यहां के एक मजूदर को बिजली विभाग ने 31 लाख रुपये का बिल थमा दिया है। हैरानी की बात ये है कि ये बिजली बिल मात्र दो महीने का है और घर में सिर्फ दो पंखे और तीन बल्ब का ही उपयोग होता है। 31 लाख का बिल देख मजदूर परिवार के होश उड़ गए।

 

 

 

स्मार्ट मीटर लगने के बाद भी बिजली आती रही

 

बिजली विभाग के इस गैर-जिम्मेदाराना रवैये से मजदूर बेहद चिंतित और लाचार है। बिल जमा नहीं करने के कारण बिजली भी काट दी गई। घर में बिजली का कनेक्शन मजदूर की पत्नी फूला देवी के नाम से है। मजदूर इसे सुधारने के लिए लगातार विभाग का चक्कर लगा रहा है। दो माह पहले इस मजदूर के घर में स्मार्ट मीटर लगाया गया और बिजली आपूर्ति होती रही। इसके बाद अचानक बिजली कट गई। इस संबंध में पीड़ित शुभलाल सहनी ने बताया कि यह बिजली कनेक्शन मेरी पत्नी फूला देवी के नाम पर है। करीब दो महीने पहले विभाग की ओर से बिजली का स्मार्ट मीटर लगाया गया था। इसके कुछ दिन बाद तक घर में बिजली आती रही। उसके बाद बिजली आनी बंद हो गई।

इन्हें भी पढ़ें...  पंजाब में कांग्रेस को झटका; लुधियाना सांसद रवनीत बिट्टू BJP में शामिल,PM मोदी से मिलना-जुलना रहा

 

बिजली की आपूर्ति के लिए कराया रिचार्ज, फिर भी…

 

शुभलाल सहनी ने आगे बताया कि 20 जून को 400 रुपये से रिचार्ज करने के बाद भी जब बिजली आपूर्ति शुरू नहीं हुई, तो बिजली विभाग में जाकर पदाधिकारी को बताया, तब पता चला कि उनका करीब 31 लाख रुपये का बिल बकाया है। लाखों में बिजली बिल बकाया सुन मजदूर के होश उड़ गए। मजदूर ने बताया कि उसके घर में मात्र दो से तीन पंखा और बल्ब का इस्तेमाल होता है। दो महीना पहले करीब 2600 रुपये का बिजली बिल बकाया था। फिर आखिर इतना बिल कैसे हो गया, यह समझ से बाहर है।

 

 

उमसी वाली गर्मी में लाइट कटने से परिवार परेशान

 

उमस भरी इस गर्मी में बिजली आपूर्ति बंद होने से पूरा परिवार परेशान है। बिजली आपूर्ति के लिए परिवार लगातार बिजली विभाग का चक्कर काट रहा है, लेकिन इस समस्या का अब तक कोई समाधान नहीं हो पाया है। शुभलाल सहनी कहा, “हम मजदूर आदमी हैं। विभाग से जल्द इस समस्या का निपटारा करने की मांग करते हैं।” वहीं, मामले में जूनियर इलेक्ट्रिकल इंजीनियर अभिषेक रंजन ने बताया कि गड़बड़ी की शिकायत मिली है। मजदूर से लिखित आवेदन मांगा गया है। कभी-कभी मीटर में गड़बड़ी आ जाती है। जांच कर ठीक किया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

स्विटजरलैंड में बर्फबारी के मजे ले रही हैं देसी गर्ल