TRENDINGउत्तर प्रदेशदेशराज्य

उत्तर प्रदेश के हाथरस में धार्मिक आयोजन में भगदड़ में 3 बच्चों समेत 50 लोगों की मौत

उत्तर प्रदेश के हाथरस में मंगलवार को एक धार्मिक आयोजन में भगदड़ मचने से महिलाओं और तीन बच्चों समेत कम से कम 50 लोगों की मौत हो गई।

 

भगदड़ एक ‘सत्संग’ (प्रार्थना सभा) के दौरान हुई। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से प्राप्त तस्वीरों में कई शवों को बसों और टेम्पो में भरकर रोते-बिलखते परिजनों की मौजूदगी में लाया जाता हुआ दिखाया गया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना पर संज्ञान लिया है और उनके निर्देश पर घटना की जांच के लिए एक समिति गठित की गई है। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने भी मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की।

एटा के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. उमेश कुमार त्रिपाठी ने कहा, “हमें 27 शव मिले हैं, जिनमें से 25 महिलाएं और दो पुरुष हैं। कुछ घायलों को भी अस्पताल ले जाया गया है। हमने सुना है कि ‘सत्संग’ के दौरान भगदड़ मची थी।” एटा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार ने बताया कि हाथरस के सिकंदराराऊ थाना क्षेत्र के एक गांव में मची भगदड़ में मरने वालों में तीन बच्चे भी शामिल हैं।

श्री कुमार ने बताया, “अभी तक 27 शव अस्पताल भेजे जा चुके हैं, जिनमें 23 महिलाएं और तीन बच्चे हैं।”

सत्संग में शामिल एक महिला ने बताया कि यह स्थानीय गुरु के सम्मान में आयोजित किया गया था और भीड़ के जाने के बाद भगदड़ मच गई।

इन्हें भी पढ़ें...  Srinagar को अपनी समृद्ध कारीगर विरासत के लिए 'World Crafts City' के रूप में मान्यता मिली

एक्स पर एक पोस्ट में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अधिकारियों को युद्ध स्तर पर राहत और बचाव कार्य चलाने तथा घायलों को उचित उपचार उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं। दो राज्य मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी और संदीप सिंह गांव के लिए रवाना हो गए हैं तथा मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक को भी वहां भेजा गया है।

 

मृतकों के परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि घटना की जांच के लिए एक समिति गठित की गई है। समिति की अध्यक्षता आगरा के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक और अलीगढ़ के आयुक्त करेंगे।

प्रेसिडेंट द्रौपदी मुर्मू ने एक्स पर एक पोस्ट में कहा कि यह घटना हृदय विदारक है।

उन्होंने हिंदी में पोस्ट किया, “उत्तर प्रदेश के हाथरस जिले में हुए हादसे में महिलाओं और बच्चों समेत कई श्रद्धालुओं की मौत की खबर हृदय विदारक है। मैं अपने परिजनों को खोने वालों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करती हूं और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करती हूं।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Back to top button
error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

स्विटजरलैंड में बर्फबारी के मजे ले रही हैं देसी गर्ल